Short biography of mahatma gandhi in hindi , महात्मा गाँधी की जीवनी

Short biography of mahatma gandhi in hindi , महात्मा गाँधी की जीवनी :: महात्मा गाँधी जिन्हें हम बापू और राष्ट्रपिता के नाम से जानते है। भारत को स्वतंत्र कराने में इन्होंने बहुत अधिक योगदान दिया हैं। इनके विचार और शिक्षा आज भी प्रत्येक व्यक्ति को प्रभावित करती हैं। आज हिंदीवानी आपको महात्मा गांधी की जीवनी के बारे में जानकारी प्रदान करेगा। जिसके अंतर्गत आपको संक्षेप में महात्मा गाँधी जी के जीवन से सम्बंधित जानकारी मिलेगी। तो आइए शुरू करते है और पढ़ते हैं।- Short biography of mahatma gandhi in hindi

Short biography of mahatma gandhi in hindi , महात्मा गाँधी की जीवनी

Short biography of mahatma gandhi in hindi , महात्मा गाँधी की जीवनी
Short biography of mahatma gandhi in hindi , महात्मा गाँधी की जीवनी

महात्मा गांधी जी का जन्म गुजरात के पोरबंदर नामक स्थान पर 2 अक्टूबर 1869 ईस्वी को हुआ था। इनके पिता जी का नाम मोहनदास करमचंद गांधी और माताजी का नाम पुतली बाई था। इनकी माता पुतलीबाई धार्मिक प्रवृत्ति की महिला थी।इनका धार्मिक परिवेश का प्रभाव महात्मा गांधी जी पर भी पड़ा।इस कारण से राजनीति में आने के बाद भी धर्म का साथ नहीं छोड़ा। किसी की प्रारंभिक शिक्षा पोरबंदर में ही हुई। और इनकी कुछ शिक्षा भावनगर किस श्यामल दास कॉलेज में हुई। इनका विवाह 13 वर्ष की आयु में कस्तूरबा गांधी से हो गया था।

READ MORE ::  महात्मा बुद्ध का जीवन परिचय, Lord buddha in hindi

गांधीजी के सामाजिक क्रांतिकारी जीवन का शुभारंभ 1893 ईस्वी में तब हुआ। जब उन्हें एक मुकदमे के सिलसिले में दक्षिण अफ़्रीका जाना था।वहां उन्होंने अंग्रेजों को भारतीय एवं वहां के मूल निवासियों के साथ बहुत बुरा व्यवहार करते देखा। वहां अंग्रेजों ने कई बार गांधीजी को अपमानित किया।उन्होंने अंग्रेजों का अपमान के विरुद्ध मोर्चा संभालते हुए अपने विरोध के लिए सत्याग्रह में हिंसा का रास्ता चुना।

उपयोगी लिंक – महात्मा गांधी पर 10 लाइन हिंदी में

भारत में अपने उद्देश्यों की पूर्ति के लिए गांधीजी ने गुजरात के अहमदाबाद में एक आश्रम की स्थापना की। इसके बाद अंग्रेज सरकार के विरुद्ध उनका संघर्ष प्रारंभ हुआ।और भारतीय राजनीत की बागडोर एक तरह से उनके हाथों में आ गई। वे जानते थे कि सामरिक रूप से संपन्न ब्रिटिश सरकार से भारत को मुक्ति लाठी और बंदूक के बल पर नहीं मिल सकती है।इसलिए उन्होंने सत्य और अहिंसा की सर्दी का सहारा लिया। अंग्रेजों के विरोध हेतु उन्होंने 1920 में असहयोग आंदोलन प्रारंभ किया

READ MORE ::  महावीर स्वामी जी का जीवन परिचय

एक राजनेता के अतिरिक्त महात्मा गांधी एक समाज सुधारक भी थे।उन्होंने समाज में जातिवाद, छुआछूत नशाखोरी ,बहुविवाह पर्दा प्रथा तथा सांप्रदायिक भेदभाव को समाप्त करने के लिए अनेक प्रकार के कार्य किए। 30 जनवरी 1948 ई को जब महात्मा गांधी प्रार्थना सभा के लिए जा रहे थे।तब नाथूराम गोडसे नामक उनके शिष्य ने ही गोली मारकर उनकी निर्मम हत्या कर दी थी।इस प्रकार से देखा जाए।तो सत्य और अहिंसा की इस महान पुजारी का दुखद अंत हो गया।

आशा हैं कि हमारे द्वारा जो Short biography of mahatma gandhi in hindi आपको उपलब्ध कराई गई हैं। उसमें आपको गांधी जी से सम्बंधित सभही जानकारी संक्षेप में मिल गयी होगी। यदि यह जानकारी आपको पसन्द आयी हो। तो इसे अपने दोस्तों से भी अवश्य शेयर करे। और साथ ही साथ हमे कॉमेंट बॉक्स में लिख कर इससे संबंधित जानकारी प्रदान करे।

Leave a Comment