DELEd kya hain Full form syllabus

DELEd kya hain Full form syllabus :: विद्यालय में प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति हेतु डीएलएड कोर्स की शुरुआत की गई थी शुरुवात में इसका नाम बीटीसी था परन्तु 2017 में इसके नाम मे बदलाव किया गया । और इसका नाम डीएलएड कर दिया गया। आज हिंदीवानी आपको DELEd kya hain Full form ,syllabus आदि की जानकारी प्रदान करेगा। साथ ही साथ आपको यह भी बताएगा कि प्राइमरी का टीचर कैसे बने। तो आइए जानते है। कि DELEd kya hain Full form syllabus –

DELEd kya hain Full form syllabus ,डीएलएड / बीटीसी क्या है ?

DELEd kya hain Full form syllabus
DELEd kya hain Full form syllabus ,डीएलएड / बीटीसी क्या है ?

DELED या BTC का फुल फार्म –

बीटीसी एक ट्रेंनिंग सर्टिफिकेट होता हैं। बीटीसी का पूरा नाम – बेसिक ट्रेंनिंग सर्टिफिकेट हैं। अंग्रेजी में इसका फुल फॉर्म – Basic training certificate हैं। 2017 से बीटीसी के नाम को बदल कर डीएलएड कर दिया गया हैं। अब यह भी जानना आवश्यक हो जाता हैं। कि डीएलएड का पूरा नाम क्या है। DELED full form -Diploma in elementary education .

DELED या BTC क्या है ?

ग्रेजुएशन करने के पश्चात ज्यादा तर लोगो से हमने बीटीसी या डीएलएड के बारे में सुना होगा। पहले हम इसे बीटीसी के नाम से जानते थे।परन्तु हाल ही के साल 2017 में इसका नाम बदल का डीएलएड कर दिया गया हैं। यह प्राइमरी कक्षाओं के शिक्षक बनने हेतु एक चरण होता हैं। जिसके पूर्ण करने के पश्चात आप शिक्षक पात्रता परीक्षा जिसे हम TET के नाम से जानते है। देने योग्य हो जाते है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही के सालों में शिक्षक पात्रता परीक्षा के पश्चात भी रख परीक्षा कराने का प्रावधान किया गया हैं। जिसको पास करने के पश्चात ही आप शिक्षक बनने हेतु योग्य माने जाएंगे।

उपयोगी लिंक – CTI कोर्स क्या होता हैं।CTI कोर्स प्रोसेस

डीएलएड की फीस कितनी हैं ?

किसी भी कोर्स को करने से पहले हमें यह जान लेना आवश्यक हो जाता हैं। कि की उसकी फीस कितनी है। तो हम आपको बता दे कि इसमें आपको दो प्रकार के शिक्षक संस्थान अलॉट किये जाते है। एक सरकारी संस्थान दूसरा प्राइवेट संस्थान। यदि आपको सरकारी संस्थान में अलॉटमेंट हो जाता हैं। तो आपकी फीस कम पड़ेगी। जिसकी फीस हैं 10200 रूपये मात्र। यदि आपका अलॉटमेंट प्राइवेट संस्थान में होता हैं। तो इस स्तिथि में आपको काफी फीस देना पड़ेगा। प्राइवेट संस्थान हेतु इसकी फीस 41000 रुपये मात्र हैं।

READ MORE ::  General science pdf book in hindi,लुसेंट सामान्य विज्ञान पीडीएफ बुक

डीएलएड करने के बाद नौकरी कैसे मिलेगी ?

डीएलएड करने के पश्चात हर व्यक्ति के मन में एक ही ख्याल आता हैं। कि उसे नौकरी किस प्रकार से मिलेगी। तो इसके लिए हम आपको बता दे कि सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष एक शिक्षक पात्रता परीक्षा कराई जाती हैं। जिसको पास करने के पश्चात आप शिक्षक बनने के चरण में एक कदम और अग्रसर हो जाएगा। इसके पश्चात राज्य सरकार के द्वारा एक और परीक्षा का प्रावधान किया गया हैं। जिसका नाम Super tet हैं।यदि आप इस परीक्षा को पास कर लिए तो आप शिक्षक बनने के दौड़ में शामिल हो पाएंगे।

DELED ( डीएलएड ) करने हेतु योग्यता –

कोई भी कोर्स को करने हेतु कुछ अहर्ता निश्चित की गई हैं। डीएलएड में भी कुछ अहर्ता निश्चित की गई हैं।डीएलएड करने हेतु आपको हाईस्कूल और इंटर की परीक्षा पास करने के पश्चात आपका ग्रेजुएशन (बीए, बीएससी , बीसीए , बीटेक) आदि होना अनिवार्य हैं। इस सब अहर्ता को पूर्ण करने पर आप डीएलएड करने हेतु योग्य हो जाते है। साथ ही साथ डीएलएड हेतु कुछ आयु सीमा भी निर्धारित की गई हैं। जिसमे महिलाओं और पुरुषों हेतु एक ही आयु सीमा हैं। डीएलएड करने हेतु न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष और अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष निर्धारित की गई हैं।

DELED डीएलएड कोर्स की प्रवेश प्रक्रिया –

डीएलएड कोर्स हेतु परीक्षा नियामक प्राधिकारी प्रयागराज के माध्यम से एक अधिसूचना जारी की जाती हैं। जिसके पश्चात छात्रों से उनके आवेदन लिए जाते है। इसमे वो छात्र प्रतिभाग करते है। जो डीएलएड करने हेतु इक्षा रखते है। आवेदन करने के पश्चात पतयेक छात्र के हाईस्कूल ,इंटर और ग्रेजुएशन के नम्बरो के माध्यमसे एक मेरिट लिस्ट तैयार की जाती हैं। यदि आपका इस मेरिट लिस्ट में नाम या जाता हैं तो आप अपने जिले के डायट में जाकर अपनी कॉउंसिलिंग करवा सकते है। उसके पश्चात आपको कॉलेज अलॉट कर दिया जाता हैं। यही डीएलएड के प्रवेश प्रक्रिया के समस्त जानकारी हैं।

READ MORE ::  What is full form of CNG in hindi , सीएनजी का पूरा नाम

डीएलएड / बीटीसी का पाठ्यक्रम –

डीएलएड दो वर्षीय डिप्लोमा कोर्स होता हैं। जिसके अंतर्गत चार सेमेस्टर होते है। हर सेमेस्टर में हमे अलग अलग विषयो को पढ़ाया जाता हैं। कुछ विषय तो वही होते है। जिनका सिर्फ विस्तार होता हैं। परन्तु कुछ विषय ऐसे होते है। जो नए जुड़ते है। नीचे आपको हम प्रत्येक सेमेस्टर के पाठ्यक्रम की जानकारी उपलब्ध करा देंगे। जिससे आपको डीएलएड के बारे में और अधिक जानकारी मिल पाएगी। तो आइए देखते हैं। कि DELED का syllabus क्या है।

डीएलएड / बीटीसी फर्स्ट सेमेस्टर का पाठ्यक्रम –

  1. बाल विकास एवं सीखने की प्रक्रिया Child development and learning process
  2. शिक्षण अधिगम के सिद्धान्त principles of teaching
  3. विज्ञान शिक्षण science
  4. गणित शिक्षण Math
  5. सामाजिक अध्ययन शिक्षण social studies
  6. हिंदी Hindi
  7. संस्कृत Sanskrit
  8. कम्प्यूटर Computer

डीएलएड / बीटीसी सेकंड सेमेस्टर का पाठ्यक्रम –

  1. वर्तमान भारतीय समाज और प्रारम्भिक शिक्षा।
  2. प्रारम्भिक शिक्षा के नवीन प्रयास।
  3. विज्ञान शिक्षण।
  4. गणित शिक्षण।
  5. सामाजिक अध्ययन।
  6. हिंदी।
  7. अंग्रेजी।

डीएलएड / बीटीसी थर्ड सेमेस्टर का पाठ्यक्रम

  1. शैक्षिक मूल्यांकन, क्रियात्मक शोध एवं नवाचार।
  2. समावेशी शिक्षा।
  3. गणित।
  4. विज्ञान।
  5. सामाजिक अध्ययन।
  6. हिंदी।
  7. संस्कृत।

डीएलएड / बीटीसी फोर्थ सेमेस्टर का पाठ्यक्रम

  1. आरम्भिक स्तर पर भाषा के पठन/लेखन एवं गणितीय क्षमता का विकास
  2. शैक्षिक प्रबन्धन एवं प्रशासन
  3. विज्ञान                              
  4. गणित                              
  5. सामाजिक अध्ययन            
  6. हिन्दी                                
  7. अंग्रेजी                                
  8. शांति शिक्षा एवं सतत विकास
READ MORE ::  BTC/DELED fourth semester book pdf download

डीएलएड या बीटीसी के बाद क्या करे ?

यह प्रश्न हर प्रशिक्षु के मन मे आता हैं कि डीएलएड या बीटीसी करने के बाद हमे करना क्या चाहिए जिससे हम प्राइमरी शिक्षक बन सके। इसके लिए यह जरूरी हैं। कि राज्य सरकार द्वारा कराई जाने वाली परीक्षा के लिए हम तैयारी करना शुरू कर दे। इसमे 5 विषय होते है। बाल विकास एवम शिक्षण शास्त्र, गणित, हिंदी , पर्यावरण अध्ययन , अंग्रेजी/ संस्कृत / उर्दू आदि। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के पश्चात राज्य सरकार जब नौकरी निकलेगी।

तो वह पुनः एक परीक्षा कराएगी। जिसे हम सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा के नाम से जानते है। यह थोड़ा कठिन होती हैं। क्योंकि इसमें 14 विषय होते है। परन्तु ये सभी विषय हम बीटीसी / डीएलएड करते वक्त पढ़ चुके होते है। जिस वजह से यह भी परिक्षाभूत ही सरलता से हम उत्तीर्ण कर सकते है। इसके पश्चात राज्य सरकार के द्वारा एक गुणांक निर्धारित किया जाता हैं। यदि आप उस गुणांक के अंदर आ जाते है। तो आप कॉउंसिलिंग करा कर शिक्षक के पद पर नियुक्ति प्राप्त कर पाएंगे।

Conclusion – आशा हैं कि हमारे द्वारा आपको बताया गया हैं। कि डीएलएड क्या होता हैं। डीएलएड की फीस कितमी हैं? डीएलएड का पाठ्यक्रम क्या है। आदि की जानकरी आपको काफी पसंद आई होगी। यदि DELEd kya hain Full form syllabus आपको पसन्द आयी हो तो इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करे। और हमे कमेंट बॉक्स ने लिख कर इसके बारे में जानकारी प्रदान करे। धन्यवाद

Leave a Comment