CTI कोर्स क्या होता हैं ?और CTI Admission process

CTI कोर्स क्या होता हैं ?और  CTI Admission process ::  आजकल हम यह देखते हैं। कि आईटीआई करना बहुत ही प्रचलन में है। लोगो का यह मानना होता हैं। कि यदि हम आईटीआई कर लिए तो हमारे लिए नौकरी पाना बहुत ही आसान हो जाएगा। परन्तु आज के इस बेरोजगारी के युग मे किसी भी क्षेत्र में नौकरी पाना बहुत ही मुश्किल हो गया हैं। इसीलिए हम फिर कुछ और बेहतर कोर्स करने के बारे में सोचते है। इन्ही कोर्स में एक कोर्स हैं। – Central traning institute for instructors . CTI कोर्स को हम आईटीआई करने बाद कर सकते है। यह एक प्रकार की ऐसी परीक्षा होती हैं। जिसको पास करने के बाद हम सरकारी या प्राइवेट आईटीआई या पॉलीटेक्निक कॉलेज में अध्यापक बन सकते है।

इसीलिए हिंदीवानी आज आपके लिए CTI course  से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी लेकर आया हैं। जिसके अंतर्गत आपको CTI COURSE DETAIL , CTI COURSE AFTER ITI , CTI ADMISSION PROCESS , CTI me kitne semester hote hain  आदि की जानकारी आपको मिलेगी। तो आइए शुरू करते हैं।

CTI कोर्स क्या होता हैं ?

CTI कोर्स क्या होता हैं ?और  CTI Admission process
CTI कोर्स क्या होता हैं ?और CTI Admission process

CTI  एक प्रकार का  प्रशिक्षण कोर्स होता हैं। जिसे हम आईटीआई या पॉलीटेक्निक करने के पश्चात कर सकते है। इस कोर्स को करने के पश्चात आप आईटीआई और पॉलीटेक्निक के सरकारी या प्राइवेट कॉलेज में अध्यापक के रूप में कार्यरत हो सकते है। अब आपके मन मे एक प्रश्न आ रहा होगा कि CTI full form  क्या है ? तो हम आपको इसका भी जवाब दिए देते है। CTI full form – central training institute for instructors .

CTI  करने के फायदे-

CTI करने के वैसे तो बहुत से फायदे है। परंतु हम मुख्य रूप से महत्वपूर्ण फायदे के बारे में जानकारी प्रदान किये दे रहे है।

1. सबसे पहला फायदा यही है। कि CTI course  करने के पश्चात आप सरकारी और गैर सरकारी आईटीआई या पॉलीटेक्निक कॉलेज में अध्यापक के रूप में नौकरी प्राप्त कर सकते है।

2. दूसरा मुख्य फायदा यह हैं। कि यदि आपकी सरकारी नौकरी नही मिल पा रही हैं। तो आप पॉलीटेक्निक कॉलेज में वर्कशॉप इंस्ट्रक्टर के रूप में अपने ट्रेड से सम्बंधित नौकरी पा सकते है।

3. CTI करने के पश्चात आप बीटेक कॉलेज में लैब टेक्नीशियन के रूप में कार्यरत हो सकते है।

4. इसको करने के बाद यदि आप विदेश जाने की चाह रखते है। तो आपको विदेश की भी कंपनियों में जॉब करने का सुनहरा अवसर मिल सकता हैं।

5. प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना केंद्र पाने हेतु आपका CTI  करना जरूरी होता हैं।

CTI admission 2020 – 2021 , How to apply CTI course , CTI फॉर्म कैसे भरे ?

उपर्युक्त दिए गए सारे प्रश्नों के उत्तर हम आपकी दिए दे रहे है। CTI फॉर्म भरने हेतु आपके पास आईटीआई या पॉलीटेक्निक का डिप्लोमा होना अनिवार्य है। और यह एक ऑनलाइन परीक्षा होती हैं। जिसके लिए ऑनलाइन फॉर्म भी भरे जाते है। और CTI के फॉर्म मार्च या अप्रैल माह में आते हैं। CTI कोर्स के अंतर्गत आपको निम्न सब्जेक्ट मिलेंगे – Trade theory , wcs , ED , POT

CTI form fees , CTI counseling fees ,CTI फॉर्म की फीस कितनी है।

CTI के लिए जाति के आधार पर फीस का निर्धारण किया गया हैं। हर परीक्षा की भांति आरक्षित वर्ग वालो को इसमे विशेष छूट प्रदान की गई हैं। जनरल और अन्य वर्ग हेतु CTI online admission form  की फीस 500 रुपये हैं। और अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / विकलांग /महिला हेतु 300 रुपये फीस का निर्धारण किया गया हैं। साथ ही साथ जब आप कॉउंसिलिंग करवाएंगे। उस वक्त भी फीस डेय होगी। जिसका शुल्क 1000 रुपये हैं। जो वापस देय नही होगा।

CTI Entrance exam pattern ::

किसी भी परीक्षा देने से पहले यह तो जानना अति आवश्यक हो जाता है। की इसमे प्रश्न किस प्रकार के आ रहे हैं। और कितने घण्टे का पेपर हैं। CTI entrance exam paper दो घंटे का होता हैं। और इस पेपर के अंतर्गत दो प्रकार के प्रश्न आते है। पहले मल्टीपल प्रश्न होते है। जिनकी संख्या पेपर की 75 ℅ होती हैं। इन प्रश्नों में ट्रेड थेओरी से सम्बंधित प्रश्न होते है। अर्थात और जिस तारदी से आईटीआई या पॉलीटेक्निक किये है। आपको उसी से सम्बंधित प्रश्न मिलेंगे। दूसरा भाग जो 25 % बचता हैं। उसके अन्तर्गत आपको मैथ और रिजिनिंग से सम्बंधित प्रश्न मिलेंगे।

CTI course eligibility qualification ,  CTI कोर्स योग्यता ::

CTI कोर्स हेतु आपको NCVT से मान्यता प्राप्त संस्थान से आईटीआई  या यदि आप पॉलीटेक्निक किये है। और यदि आप अप्रेंटिस से पॉलीटेक्निक , आईटीआई या पॉलीटेक्निक या बीटेक किये है। तो आप इस कोर्स को करने हेतु योग्य हैं। CTI कोर्स करने हेतु आपकी आयु 18 वर्ष से 40वर्ष के बीच होनी चाहिए।

CTI सेशन कब शुरू होता हैं ?

तो आइए हम सब यह भी जान लेते है। कि CTI सेशन कब शुरू होता हैं। क्योंकि कोर्स में सेशन ही तो सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होते है। CTI  के अंर्तगत चार सेशन होते है। जिसमे से पहला सेशन 1 अगस्त को शुरू किया जाता हैं। उसके पश्चात दूसरा सेशन 1 नवम्बर को शुरू किया जाता हैं। तीसरा सेशन को 1 फरवरी को शुरू किया जाता हैं। और आखिरी सेशन या कहे चौथा सेशन को 1 मई को शुरू किया जाता हैं।

CTI admission important link –

नीचे हम आपको CTI से सम्बंधित एक लिंक दे रहे है। जहां से आप आसानी से इससे संबंधित सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त कर सकते है। जैसे कि CTI का एडमिशन फॉर्म, CTI सिलेबस , CTI नोटिफिकेशन आदि। क्योंकि किसी भी कोर्स को करने से फके यह सब चीजें जान लेना बहुत ही जरूरी हैं। जिससे कि हमारी आधी समस्यायों का समाधान ऐसे ही हो जाये। और हमे ज्यादा परेशान न होना पड़े।

Final word – ऊपर हमने आपको CTI से सम्बंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई हैं। जिनमे ,cti पाठ्यक्रम विवरण,cti कानपुर,सीटीआई प्रवेश योग्यता,आदि जानकारी थी। तो यदि आपको यह सभी जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करे। और यदि आपके पास इससे संबंधित कुछ और जानकारी हैं। तो उसे कमेंट बॉक्स में हमे जरूर बताएं । हम उसे जरूर ऐड करेगे। धन्यवाद

1 thought on “CTI कोर्स क्या होता हैं ?और CTI Admission process”

Leave a Comment