Best hindi short story , बुद्धिमान खरगोश की चतुराई

Best hindi short story , बुद्धिमान खरगोश की चतुराई :: बुद्धिमत्ता हम सभी को हर प्रकार की विपत्तियों से दूर करने में बहुत ही ज्यादा सहायता करती हैं। यदि हम थीदा से दिमाक लगाए तो हम हर एक परेशानी से बहुत ही आसानी से निकल सकते है। आज हिंदीवानी आपको ऐसी ही कहानी के बारे में जनाकारी देगा। जहाँ आपको एक छोटे से खरगोश की बुद्धिमान रणनीति की बारे में जानकारी मिलेगी। की कैसे वह अपनी चतुराई से एक मुश्किल वक्त में अपनी जान बचाता हैं। तो आइए शुरू करते हैं – Best hindi short story

Best hindi short story , बुद्धिमान खरगोश की चतुराई

Best hindi short story

एक बार की बात है एक जंगल में एक शेर रहता था। शेर बहुत ही ज्यादा क्रूर था। वह किसी भी जानवर पर विनम्रता नहीं दिखाता था।उसे यदि जंगल में कोई भी जानवर दिख जाता था। तो उसे मार कर खा जाता था । इस प्रकार से धीरे-धीरे करके करके जंगल में जानवरों की संख्या कम हो रही थी।सभी जंगल के जानवर जंगल के राजा शेर से बहुत ही अधिक परेशान हो चुके थे।

उन्होंने इस संबंध में एक योजना बनाई।और उस योजना को बताने के लिए सभी लोग शेर के पास के गए। और सभी ने एकमत से यह बात कही कि हमें यह बिल्कुल भी नहीं अच्छा लगता कि जंगल का राजा शेर इधर उधर जाकर इतनी मशक्कत करके शिकार करें इसलिए हम सभी लोगों ने यह निर्णय लिया है।कि प्रतिदिन हम में में से कोई क्रमवार आपके पास भोजन के रूप में आएगा।उसे आप खा सकते हैं।

READ MORE ::  समझदार व्यापारी और उसके साथी :: Moral story in hindi

Also read :- लालची बिल्ली , हिंदी शिक्षा प्रद कहानी

जंगल के राजा शेर को यह बात पसंद आई और यह बात मान लिया उसके बाद क्रमवार सभी क्या नंबर आता गया। धीरे-धीरे जंगल में इस नियम से शांति फैलने लगी। कुछ समय पश्चात एक खरगोश का एक खरगोश का नंबर आया।

जिसे जंगल के राजा शेर का शिकार बनना था।खरगोश बहुत ही ज्यादा चिंतित हुआ। वह मन में सोचा कि मुझे किसी भी तरीके से जंगल के राजा शेर से बचना है। उसने बहुत ही ज्यादा विचार विमर्श किया ।परंतु उसके मन में कोई भी ख्याल नहीं आ रहा था।

फिर वह शेर की गुफा की तरफ जैसे ही बढ़ रहा था वैसे उसे उसे रास्ते में एक कुआं मिला। कुएं जाकर उसने देखा तो पाया कि उसे अपनी ही परछाई दिखाई दे रही थी। इस प्रकार से उसे एक विचार मिल चुका था ।

वह जल्दी से जंगल के राजा शेर के पास गया। शेर बहुत ही क्रोधित हुआ।क्योंकि कुछ समय कि देरी हो चुकी हो चुकी थी।परंतु खरगोश ने कहा कि राजा जी माफ करिए या मेरी गलती नहीं है।कि यहां आने पर देरी मेरी गलती से नही हुई है। मुझे रास्ते में एक और शेर मिल गया था। और हमारे साथ तीन और खरगोश थे।

READ MORE ::  Best motivational speech in hindi, प्रेणादायक स्पीच हिंदी में

उसने हम सभी को रोककर यह कहा कि तुम कहां पर जा रहे हो।हमने यह पूरी बात बताई उसके पश्चात उसने कहा यह कौन नकली राजा जंगल में आ गया है।जो मेरे शिकार को अपना शिकार बता रहा है।और उसने यह कहकर मेरे साथ भेजे गए तीन खरगोश को अपना शिकार बना लिया।और मुझे छोड़ते हुए यह कहा कि तुम नकली राजा को कह दो जाकर कि इस जंगल का राजा मैं हूं।

उसे इस बात से बहुत क्रोध आया उसने खरगोश को उसी के के पास ले जाने के लिए कहा। खरगोश शेर को कुएं के पास ले जाता है ।और वह कहता है कि वह इस कुएं के अंदर है।शेर जैसे ही कुएं पर देखता है।तो उसे अपनी तरह के दूसरा शेर दिखाई देता है।परन्तु वह परछाई थी।

परन्तु वह यह बिल्कुल भी नही सोच पाया। वह बहुत ही ज्यादा क्रोधित होकर उस कुएं में कूद जाता है ।उसके बाद उसके पास बाहर निकलने के लिए कोई रास्ता नहीं होता है।और वह फिर वहीं पर मर जाता है।

READ MORE ::  inspirational Story In Hindi , प्रेरणादायक कहानी हिंदी में

शिक्षाप्रद कहानी से मिलने वाली सीख – इस कहानी से हमे यह शिक्षा मिलती हैं। कि हमारे सामने चाहे जितनी भी बड़ी विपत्ति क्यों ना हो। यदि हम थोड़ा सा धैर्य रख कर अपनी बुद्धि से विचार करे। तो हम उस विपत्ति से जरूर बाहर निकल सकेंगे।

फाइनल वर्ड –

आशा हैं कि हमारे द्वारा जो Best hindi short story आपको बताई गई हैं। वह बहुत ही ज्यादा पसन्द आयी होगी। यदि आपको यह शिक्षाप्रद कहानी पसन्द आयी हो। तो इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करे। साथ ही साथ हमे कॉमेंट बॉक्स में लिख कर जनाकारी जरूर दे। और यदि आपके पास भी ऐसीही कोई रोचक कहानी हैं। तो हमे ईमेल करना ना भूले। धन्यवाद

Leave a Comment