क्षार किसे कहते है ?|क्षार के प्रकार|Base in hindi

विज्ञान के अन्य टॉपिक की ही भांति आज हम आपके लिए लेकर आये है। क्षार किसे कहते है ? (Base in hindi ) अथवा क्षारक किसे कहते है। आज हम इस आर्टिकल में Base in hindi  के बारे में सम्पूर्ण जनाकारी को प्राप्त करेंगे। जैसे कि हमने अम्ल किसे कहते है ? कि जनाकारी पिछले आर्टिकल में प्राप्त की थी। इस आर्टिकल में हम आपको क्षार किसे कहते है ? या क्षारक किसे कहते है ? क्षार के प्रकार , क्षार के उदाहरण और क्षार के उपयोग के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे। तो आइए शुरू करते है। और पढ़ते हैं – Base in hindi

Base किसे कहते है ? | Base definition in hindi

Base in hindi

क्षार किसे कहते है ? Base in hindi

क्षार वह पदार्थ है। जो जलीय विलियन में आयन देते हैं। उदाहरण के लिए सोडियम हाइड्रोक्साइड अपने जलीय बिलियन विलियन में विभक्त होता है।

READ MORE ::  परमाणु और अणु में अंतर(Diffrence between atom and molecule)

जो क्षार जल में विलय हो जाते है। उन्हें क्षारक कहते हैं।

क्षार के उदाहरण –

क्षार के उदाहरण निम्नलिखित हैं।

  1. सोडियम हाइड्रोक्साइड(NAOH) या साबुन में प्रयोग किया जाने वाला कास्टिक सोडा।
  2. पोटैशियम हाइड्रोक्साइड(KOH) किया स्नान साबुन में प्रयोग किए जाने वाला पोटाश।
  3. कैल्शियम हाइड्रोक्साइड या पुताई के लिए प्रयोग में आने वाला चूने का पानी।
  4. मैग्निशियम हाइड्रोक्साइड अम्लता को नियंत्रित करने के लिए प्रयोग होने वाला मिल्क आफ मैग्नीशिया है। अमोनियम हाइड्रोक्साइड बालों को रंगने में प्रयोग होने वाला।

क्षारको के गुण ( Properties of base in hindi )

क्षारको के गुण निम्नलिखित हैं।

स्वाद व स्पर्श – क्षारको का स्वाद कड़वा होता हैं। व इसका विलयन साबुन की तरह फिसलन भरा होता हैं।

सूचक की क्रिया – सूचक क्षार की उपस्थिति में विशेष रंग दिखाता हैं। क्षारको कि उपस्थित में 03 सामान्य रूप से उपयोग किये जाने वाले सूचकों द्वारा दिखाए गए रंग आसह से याद के लिए सारणी में दिए जाते है।

क्षारको के प्रकार | types of bases in hindi

क्षार दो प्रकार के होते है।

  1. प्रबल क्षारक ।
  2. दुर्बल क्षारक।
READ MORE ::  विसरण और परासरण में अन्तर , Difference between diffusion and osmosis in hindi

प्रबल क्षारक – यह अपने जलीय विलियन में पूर्णतया आयनिक हो हो जाते हैं। उदाहरण – सोडियम हाइड्रोक्साइड, पोटैशियम हाइड्रोक्साइड ,सोडियम हाइड्रोक्साइड ।

दुर्बल क्षारक – ये जलीय विलयन में आंशिक रूप से आयनित होते है। अतः इनके जलीय विलयन में अणु व आयन दोनों होते है। उदाहरण – अमोनियम हाइड्रॉक्साइड आयरन हाइड्रोक्साइड मैग्निशियम हाइड्रोक्साइड।

क्षार के उपयोग ( Uses of Bases ) –

1. कैल्सियम हाइड्राक्साइड –  इसका उपयोग विरंजक पाउडर के निर्माण में कंकरीट व प्लास्टर मे चुना पोतने में जल के मृदुकरण में ,व  अम्लीय मृदा को उपचारित करने में किया जाता है।इसकी सहायता से चमड़े की बाहरी सतह पर स्थित बालों को भी हटाया जाता है।

2.मैग्निशियम हाइड्राक्साइड –  इसका उपयोग प्रति अम्ल के रूप में व चीनी उद्योग में किया जाता है।

3.सोडियम हाइड्राक्साइड –  इसे हम कास्टिक सोडा के नाम से भी जानते हैं।इसका उपयोग धातुओं से ग्रीस हटाने में, कागज बनाने में ,कठोर साबुन और अपमार्जक के निर्माण में हुआ टेक्सटाइल उद्योग में किया जाता है।इसके अलावा इसका उपयोग पेट्रोलियम के शोधन में तथा घरों की सफाई में किया जाता है।

READ MORE ::  दूरी और विस्थापन में अंतर(Diffrence between distance and displacement in hindi)

4.पोटेशियम हाइड्राक्साइड – इसका उपयोग प्रयोगशाला अभिकर्मक के रूप में ,मृदु साबुन, शैंपू का शेविंग क्रीम के निर्माण में किया जाता है।

5.कैल्शियम ऑक्साइड – इसका उपयोग शुष्क कारक के रूप में विरंजक चूर्ण के निर्माण में गाड़ी में एक अवयव के रूप में किया जाता है।

6.मैग्नीशियम ऑक्साइड – इसका उपयोग भट्टी में अग्निसह ईट के निर्माण में रबड़ पूरक के रूप में वालों के प्रयोग में किया जाता है।

फाइनल वर्ड –

आशा हैं कि हमारे द्वारा दी गयी अम्ल किसे कहते है? कि जनाकारी आपको पज़न्द आयी होगी। यदि आपको Base  किसे कहते है। कि जनाकारी पज़न्द आयी हो। तो इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करे। साथ ही साथ हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर Base in hindi  आपको कैसा लगा । यह हमें बताने का जरूर कष्ट करें।

यदि आपको Base in hindi की तरह अन्य कोई भी जानकारी चाहिए हो। तो हमे कॉमेंट बॉक्स या हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई ईमेल आईडी के माध्यम से हमे यह सूचना जरूर दे। हम उस टॉपिक को जल्द से जल्द आप तक पहुचाने की कोशिश करेंगे।

Leave a Comment