व्यक्तिगत विभिन्नता का अर्थ और परिभाषा|Meaning and definition of individual difference

0
373

व्यक्तिगत विभिन्नता का अर्थ और परिभाषा|Meaning and definition of individual difference: व्यक्तियों में एक दूसरे से जो भिन्नता पायी जाती है। उसे हम व्यक्तिगत विभिन्नता कहते है। आज hindivaani आपको व्यक्तिगत विभिन्नता का अर्थ और परिभाषा , व्यक्तिगत विभिन्नता के प्रकार , व्यक्तिगत विभिन्नता के कारण आदि की जानकारी प्रदान करेगा।

व्यक्तिगत विभिन्नता का अर्थ और परिभाषा|Meaning and definition of individual difference

व्यक्तिगत भिन्नताएं,व्यक्तिगत विभिन्नताएं,व्यक्तिगत मतभेदों के प्रकार,वैयक्तिक विभिन्नता के कारण,व्यक्तिगत मतभेदों की परिभाषा,व्यक्तिगत मतभेदों का कारण बनता है,व्यक्तिगत विभिन्नता की विशेषताएं,व्यक्तिगत विभिन्नता से आप क्या समझते हैं, individual difference psychology in hindi, individual difference in hindi,, individual difference psychology, individual difference meaning in hindi, individual difference in learning, individual difference meaning, vaiktik binnta kya hain, vaiktik binnta ke kya karan hain
व्यक्तिगत भिन्नताएं,व्यक्तिगत विभिन्नताएं,व्यक्तिगत मतभेदों के प्रकार,वैयक्तिक विभिन्नता के कारण,व्यक्तिगत मतभेदों की परिभाषा,व्यक्तिगत मतभेदों का कारण बनता है,व्यक्तिगत विभिन्नता की विशेषताएं,व्यक्तिगत विभिन्नता से आप क्या समझते हैं, individual difference psychology in hindi, individual difference in hindi,, individual difference psychology, individual difference meaning in hindi, individual difference in learning, individual difference meaning, vaiktik binnta kya hain, vaiktik binnta ke kya karan hain

व्यक्तिगत विभिन्नता का अर्थ (Meaning of individual difference)

व्यक्तिगत विभिन्नता से अभिप्राय प्रत्येक व्यक्ति में जैविक, मानसिक ,सांस्कृतिक एवं संवेगात्मक अंतर पाया जाना। इसी अंतर के कारण व्यक्ति एक दूसरे से भिन्न होता है।मनोविज्ञान के क्षेत्र में 19वीं शताब्दी में फ्रांसिस गॉल्टन, पीयर्सन,टर्मन आदि ने व्यक्तिगत विभिन्नता का पता लगाया।

तथा इनके कारण को जानने की कोशिश की इन मनो वैज्ञानिकों ने यह बताया कि कोई भी व्यक्ति एक दूसरे से सामान नहीं होता है। यहां तक कि जुड़वा बच्चों ने दिया समानता पाई जाती है।इस दृष्टि से व्यक्तिगत विभिन्नता प्रकृति द्वारा प्रदत्त स्वाभाविक गुण है।

व्यक्तिगत विभिन्नता की परिभाषाएं (Definition of individual difference)

व्यक्तिगत विभिन्नता की विभिन्न शिक्षा शास्त्रियों के अनुसार परिभाषाएं निम्नलिखित है।

स्किनर के अनुसार व्यक्तिगत विभिन्नता की परिभाषा

” व्यक्तिगत विभिन्नता में संपूर्ण व्यक्तित्व का कोई भी ऐसा पहलू सम्मिलित हो सकता है। जिसका माप किया जा सकता है।”

टायलर के अनुसार व्यक्तिगत विभिन्नता की परिभाषा

“शरीर के आकार और स्वरूप,शारीरिक कार्यो, गति संबंधी क्षमताओं,बुद्धि उपलब्धि,ज्ञान रुचियां ,अभिवृत्तियों और व्यक्तित्व के लक्षणों में माप की जा सकने वाली विभिन्नताओ की उपस्थिति की जा चुकी है।”

टायलर के अनुसार

“एक व्यक्ति का दूसरे व्यक्ति से अंतर एक सार्वभौमिक घटना जान पड़ती है।”

व्यक्तिगत विभिन्नताओं के प्रकार(Kinds of individual difference)

व्यक्तिगत विभिन्नताओं के प्रकार निम्नलिखित हैं।

  • शारीरिक विभिन्नता
  • मानसिक विभिन्नता
  • संवेगात्मक विभिन्नता
  • रुचियों में विभिन्नता
  • विचारों में विभिन्नता
  • सीखने में विभिन्नता
  • गत्यात्मक योग्यताओं में विभिन्नता
  • चरित्र में विभिन्नता
  • विशिष्ट योग्यता में विभिन्नता
  • व्यक्तित्व में विभिन्नता

वैयक्तिक विभिन्नता की प्रकृति एवं विशेषताएं(Nature And characteristics of individual difference)

वैयक्तिक विभिन्नता की प्रकृति एवं विशेषताएं निम्नलिखित हैं।

(1)वैयक्तिक विभिन्नता में व्यक्तित्व के केवल मापीय लक्षणों को ही समाहित किया जा सकता है। जैसे भार, लंबाई बुद्धि क्रोध आदि।

(2)व्यक्ति व्यक्ति में किसी गुण में विभिन्नता उसके प्राप्तांको के गुण विशेष के मध्यमान से विचलन के अंतर द्वारा प्राप्त होती है।

(3)कोई व्यक्ति किसी गम विशेष की दृष्टि से औसत प्राप्तांक के निकट हो सकता है।दूसरे गुण में औसत प्राप्तांक से कम हो सकता है।

(4)व्यक्तिगत विभिन्नता मानव के विविध प्रकार के विकास का आधार होती है।

व्यक्तिगत भिन्नताएं,व्यक्तिगत विभिन्नताएं,व्यक्तिगत मतभेदों के प्रकार,वैयक्तिक विभिन्नता के कारण,व्यक्तिगत मतभेदों की परिभाषा,व्यक्तिगत मतभेदों का कारण बनता है,व्यक्तिगत विभिन्नता की विशेषताएं,व्यक्तिगत विभिन्नता से आप क्या समझते हैं, individual difference psychology in hindi, individual difference in hindi,, individual difference psychology, individual difference meaning in hindi, individual difference in learning, individual difference meaning, vaiktik binnta kya hain, vaiktik binnta ke kya karan hain

वैयक्तिक विभिन्नताओं के क्षेत्र (Areas of individual differences)

वैयक्तिक विभिन्नताओं के क्षेत्र निम्नलिखित हैं।

शारीरिक क्षेत्र

इसमें निम्न दो क्षेत्र आते हैं।

  • शारीरिक भिन्नता
  • गत्यात्मक योग्यता भिन्नता

मानसिक क्षेत्र

इसके अंतर्गत 4 क्षेत्र आते हैं।जो निम्नलिखित हैं।

  • बुद्धि विभिन्नता
  • उपलब्ध भिन्नता
  • अभिक्षमता भिन्नता
  • विशिष्ट योग्यता भिन्नता

संवेगात्मक क्षेत्र

  • संवेगात्मक भिन्नता
  • रुचियों में भिन्नता
  • अभिवृत्तियों में भिन्नता

सामाजिक क्षेत्र

सामाजिक क्षेत्र के अंतर्गत निम्नलिखित क्षेत्र आते हैं।

  • सामाजिक एवं सांस्कृतिक भिन्नता
  • आदर्शों, मूल्य एवं नैतिकता में भिन्नता
  • जातीय तथा राष्ट्रीय भिन्नता
  • आत्मधारणाओ में भिन्नता

उपयोगी लिंक uptet study material free pdf notes in hindi

विस्मृति का अर्थ और परिभाषा

व्यक्तिगत विभिन्नताओं के कारण (Causes of individual diffrences)

व्यक्तिगत विभिन्नता ओं के अनेक कारण हैं।जिनमें से अधिक महत्वपूर्ण निम्नलिखित हैं।

वंशानुक्रम (Heredity)

व्यक्तिगत विभिन्नता ओं का पहला कारण वंशानुक्रम है।रूसो पियरसन ने इसका प्रबल समर्थन किया है।उन्होंने कहा है कि व्यक्तियों की शारीरिक, मानसिक और चारित्रिक विभिन्नताओं का प्रमुख कारण वंशानुक्रम है।

वातावरण (environment)

व्यक्तिगत विभिन्नताओं का दूसरा कारण वातावरण है। मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि व्यक्ति जिस पर सामाजिक वातावरण में निवास करता है।उसी के अनुरूप उसका व्यवहार, रहन सहन ,आचार विचार आदि होते हैं।

जाति ,प्रजाति व देश (Caste, race, and country)

व्यक्तिगय विभिन्नताओ का तीसरा कारण जाति ,प्रजाति और देश है।ब्राह्मण जाति के मनुष्य में अध्ययनशीलता , क्षत्रिय जाति के मनुष्य में युद्धप्रियता का गुण मिलता है।

आयु और बुद्धि(Age and itteligence)

व्यक्तिगत विभिन्नताओं का चौथा कारण आयु और बुद्धि है। आयु के साथ-साथ बालक का शारीरिक ,मानसिक और संवेगात्मक विकास होता है।इसीलिए विभिन्न आयु के बालकों में अंतर मिलता है।

व्यक्तिगत भिन्नताएं,व्यक्तिगत विभिन्नताएं,व्यक्तिगत मतभेदों के प्रकार,वैयक्तिक विभिन्नता के कारण,व्यक्तिगत मतभेदों की परिभाषा,व्यक्तिगत मतभेदों का कारण बनता है,व्यक्तिगत विभिन्नता की विशेषताएं,व्यक्तिगत विभिन्नता से आप क्या समझते हैं, व्यक्तिगत विभिन्नता का अर्थ और परिभाषा,individual difference psychology in hindi, individual difference in hindi,, individual difference psychology, individual difference meaning in hindi, individual difference in learning, individual difference meaning, vaiktik binnta kya hain, vaiktik binnta ke kya karan hain

आशा है कि हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसन्द आयी होगी इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here