नवाचार का अर्थ और परिभाषा

नवाचार का अर्थ और परिभाषा :: आज का hindivani का टॉपिक हैं शैक्षिक नावचार या शिक्षा में नवाचार। आज हिंदीवानी आपको नवाचार से सम्बंधित साभि प्रकार की जानकारी प्रदान करेगा। जो कि हम आगे आपको उपलब्ध करा रहे है। इस आर्टिकल में आपको नवाचार से सम्बबंधि हर चीज मिल जाएगी । जिससे यह नावचार में निबन्ध लिखने काफी सहायक होगा।

नवाचार का अर्थ और परिभाषा

शिक्षा में नवाचार निबंध,प्राथमिक स्तर पर शिक्षा में नवाचार,नवाचार के लाभ,नवाचार के गुण,नवाचार के तरीकेसामाजिक नवाचार,नवाचार की आवश्यकता,नवाचार की विशेषताएं,नवाचार की उपयोगिता,नवाचार का परिभाषा,नवाचार का अर्थ क्या होता है,नवाचार की विशेषताओं की व्याख्या, नवाचार का अर्थ और परिभाषा, नवाचार के प्रकार, नवाचार का महत्व, नवाचार के क्षेत्र
शिक्षा में नवाचार निबंध,प्राथमिक स्तर पर शिक्षा में नवाचार,नवाचार के लाभ,नवाचार के गुण,नवाचार के तरीकेसामाजिक नवाचार,नवाचार की आवश्यकता,नवाचार की विशेषताएं,नवाचार की उपयोगिता,नवाचार का परिभाषा,नवाचार का अर्थ क्या होता है,नवाचार की विशेषताओं की व्याख्या, नवाचार का अर्थ और परिभाषा, नवाचार के प्रकार, नवाचार का महत्व, नवाचार के क्षेत्र

नवाचार का अर्थ (Meaning of innovation)

नवाचार शब्द दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है।नव + आचार , नव का अर्थ है नया और आचार का अर्थ है आचरण या परिवर्तन।

नवाचार वह परिवर्तन है।जो पूर्व स्थित विधियों और पदार्थ आदि में नवीनता का संचार करता है।नवाचार शब्द अंग्रेजी के इनोवेशन शब्द के इनोवेट शब्द से बना हुआ। जिसका अर्थ होता है नवीनता लाना या परिवर्तन लाना।

नवाचार की परिभाषा

नवाचार की परिभाषा विभिन्न मनोवैज्ञानिकों के अनुसार निम्नलिखित हैं।

रोजर्स के अनुसार नवाचार की परिभाषा

” नवाचार वह विचार हैं जिसकी प्रितीति, व्यक्ति नवीन विचारो के रूप में करे”

वारनेट के अनुसार नवाचार की परिभाषा

” नवाचार एक विचार हैं, व्यवहार हैं अथवा पदार्थ हैं जो नवीन हैं और वर्तमान स्वरूप से गुणात्मक दृष्टि से भिन्न हैं”

नवाचार की विशेषताएं

नवाचार की विशेषताएं निम्नलिखित है।

1.शिक्षा में नवाचार में क्रियाशीलता एवं प्रयोगिगता की प्रवृत्ति उपस्थित होती है।

2 .यह प्रयास पूर्ण किया जाने वाला कार्य हैं।

3.नवाचार के द्वारा वर्तमान विधियों और परिस्थितियों में सुधार लाने का प्रयास किया जाता हैं।

4.शिक्षा में नवाचार के माध्यम से नवीनतम तकनीक को विद्यालय में पहुचाया जाता हैं।

5.नवीन शिक्षण तकनीकी के माध्यम से बालक का सर्वांगीण विकास सम्भव होता हैं।

शैक्षिक नवाचार के उद्देश्य

शैक्षिक नवाचार के उद्देश्य निम्लिखित हैं।

1.शिक्षा में नवाचार के माध्यम से अधिगम प्रक्रिया को सरल बनाया जाता हैं।

2.बालको का सर्वागीण विकास किया जाता हैं। जिससे बालको की अंर्तनिहित शक्तियों का विकास हो सके।

3.छात्रों और शिक्षकों का नवीनतम वैज्ञानिक दृष्टिकोण का विकास हो सके। जिससे वो अंधविश्वास और कुरूतियो से दूर रहे।

4.शिक्षा में शिक्षण नवाचारों के प्रयोग का मुख्य उद्देश्य शिक्षा व्यवस्था को विश्व स्तरीय प्रतिस्पर्धा में आगे पहुंचाना है जिससे कि संसार में हमारी शिक्षा प्रणाली आदर्श रूप में जाने जा सके।

नवाचार के प्रकार

नवाचार के प्रकार निम्नलिखित हैं।

  1. तकनीकी नवाचार ।
  2. उत्पाद और सेवा नवाचार।
  3. रणनीति और संरचनात्मक नवाचार ।
  4. सांस्कृतिक अभिनव।

शिक्षा में नवाचार निबंध,प्राथमिक स्तर पर शिक्षा में नवाचार,नवाचार के लाभ,नवाचार के गुण,नवाचार के तरीकेसामाजिक नवाचार,नवाचार की आवश्यकता,नवाचार की विशेषताएं,नवाचार की उपयोगिता,नवाचार का परिभाषा,नवाचार का अर्थ क्या होता है,नवाचार की विशेषताओं की व्याख्या, नवाचार का अर्थ और परिभाषा, नवाचार के प्रकार, नवाचार का महत्व, नवाचार के क्षेत्र

नवाचार का महत्व

नवाचार का महत्व नीचे दिए गए निम्नलिखित बिंदुओं के द्वारा समझाया गया है।

  1. मूल्य शिक्षा के क्षरण को रोकने के लिए
  2. संप्रदायिक सद्भाव बढाना
  3. परिवर्तन के अनुसार शिक्षा प्रणाली
  4. अनेक समस्याओं का समाधान
  5. शिक्षण अधिगम प्रक्रिया की प्रभावशीलता के लिए
  6. ज्ञान का स्थायित्व
  7. शैक्षिक उद्देश्यों की प्राप्ति हेतु
  8. शिक्षण अधिगम सामग्री के प्रयोग के लिए
  9. छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए
  10. कौशलों का विकास के लिए
  11. नवीन शिक्षण विधियों के ज्ञान हेतु
  12. वैज्ञानिक दृष्टिकोण का विकास
  13. शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए
  14. अनुसंधान के लिए
  15. मनोविज्ञान सिद्धांतों के प्रयोग के लिए

शैक्षिक नवाचार की आवश्यकता

शैक्षिक नवाचार की आवश्यकता निम्नलिखित हैं।

  1. कल्याणकारी राज्य की स्थापना के लिए ।
  2. तीव्र आर्थिक विकास हेतु ।
  3. जनसंख्या की आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु।
  4. मानव संसाधन का विकास करने हेतु।
  5. सामाजिक परिवर्तन के अनुसार शिक्षा ।
  6. रोजगार के अवसरों में वृद्धि हेतु।

शैक्षिक नवाचार के क्षेत्र

शैक्षिक नवाचार के कुछ प्रमुख क्षेत्र निम्नलिखित हैं।

  1. शिक्षण अधिगम ।
  2. मूल्यांकन ।
  3. पाठ्य सहगामी क्रियाकलाप ।
  4. सामुदायिक सहभागिता ।
  5. विद्यालय प्रबंधन।
  6. विषयगत कक्षा -शिक्षण एवं समसामयिक दृष्टिकोण।

आशा हैं कि हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी इसे अपने दोस्तों से जरूर शेयर करे।

Tages-शिक्षा में नवाचार निबंध,प्राथमिक स्तर पर शिक्षा में नवाचार,नवाचार के लाभ,नवाचार के गुण,नवाचार के तरीके,सामाजिक नवाचार,नवाचार की आवश्यकता,नवाचार की विशेषताएं,नवाचार की उपयोगिता,नवाचार का परिभाषा,नवाचार का अर्थ क्या होता है,नवाचार की विशेषताओं की व्याख्या, नवाचार का अर्थ और परिभाषा, नवाचार के प्रकार, नवाचार का महत्व, नवाचार के क्षेत्र

2 thoughts on “नवाचार का अर्थ और परिभाषा”

  1. aap ke dwara pradaan ki gayi samgri mere liye bahut labhdayak rahi…aapko ek sujhaav dena chahta hun —samay samay par sochna visfot k saat isse update karete rahen.. dhanyavaad

    Reply

Leave a Comment